"
"
Ragi in Hindi Name

स्वस्थ वजन बनाए रखने के लिए लोग तरह-तरह के अनाज खाते हैं। इनमें से कुछ अनाज, जैसे चावल, गेहूं और चना, दूसरों की तुलना में अधिक पसंद किए जाते हैं। हालांकि यह बहुत प्रसिद्ध नहीं है, अनाज की किस्म रागी बहुत स्वस्थ है। रागी न केवल खाने में स्वादिष्ट होती है बल्कि यह हमें स्वस्थ रखने में भी मदद करती है। आज के इस लेख में हम रागी के फायदे और उपयोग (ragi in hindi name) के बारे में विस्तार से जानेंगे। तो इस पोस्ट को अंत तक अवश्य पढ़ें।

रागी क्या है?

प्राचीन काल से रागी (एक प्रकार का मोटा अनाज) का सेवन किया रहा है। रागी को मंडुआ, नाचनी, रागी और अन्य नामों से भी जाना जाता है। रागी का वैज्ञानिक नाम Eleusine coracana है। जबकि ragi in hindi name रागी है , और इंग्लिश में finger millet है।

आमतौर पर लोग रागी को आटे के रूप में इस्तेमाल करते हैं। रागी के आटे को गेहूं के आटे के साथ मिलाकर उपमा, सूप, कुकीज, डोसा और अन्य स्वादिष्ट खाद्य पदार्थ बनाए जाते हैं। रागी न सिर्फ खाने में स्वादिष्ट होती है बल्कि यह हमारे स्वास्थ्य के लिए भी बहुत फायदेमंद होती है।

ज्यादातर रागी पहाड़ी इलाकों में उगाई जाती हैं। पौधा लगभग 1 मीटर कितना लंबा होता है। इसके बीज गोल, झुर्रीदार और गहरे भूरे रंग के होते हैं। भारत में, कर्नाटक राज्य वह जगह है जहाँ रागी सबसे अधिक उगाई जाती है। इसके अलावा रागी अफ्रीका में उगाए जाने वाले सबसे लोकप्रिय अनाजों में से एक है।

रागी के फायदे- (ragi in hindi name)

Ragi in Hindi Name

आयुर्वेद में रागी के कई फायदे बताए गए हैं। तो आइए नजर डालते हैं रागी के इस्तेमाल से होने वाले फायदों पर।

  • स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए रागी के फायदे और कोलेस्ट्रॉल कम करने की इसकी क्षमता
  • रागी के गुण वजन घटाने में मदद करते हैं।
  • दिल की सेहत के लिए रागी के फायदे
  • मधुमेह को नियंत्रित करने के लिए रागी के फायदे
  • रागी फौलादी हड्डियों का स्रोत है।
  • एनीमिया के लिए रागी के फायदे
  • रागी रक्तचाप कम करता है।
  • शिशुओं के लिए रागी के फायदे
  • रागी के फायदों का उपयोग करके अपनी त्वचा की देखभाल करें।

रागी का उपयोग- (ragi in hindi name)

आईये जानते है रागी के क्या क्या उपयोग हो सकते है 

  • आप रागी की रोटी बना कर खा सकते हैं।
  • आप रागी डोसा बनाकर खा सकते हैं।
  • रागी के आटे का इस्तेमाल परांठे बनाने और खाने में किया जा सकता है।
  • रागी से भी इडली बनाई जा सकती है।
  • रागी से बने फेस मास्क उपलब्ध हैं।

रागी के पौष्टिक तत्व

पोषक तत्वपोषक तत्वों की मात्रा
प्रोटीन7.7 ग्राम
पोटैशियम430-490 मिलीग्राम
कैल्शियम398 मिलीग्राम
फास्फोरस130-250.0 मिलीग्राम
कार्बोहाइड्रेट75.0 – 83.3 ग्राम
सोडियम49 मिलीग्राम
कॉपर0.47 मिलीग्राम
मैग्नीशियम78-201 मिलीग्राम
जिंक2.3 मिलीग्राम
फैट1.8 ग्राम
आयरन3.3-14.89 मिलीग्राम
फाइबर15-22.0 ग्राम
मैंगनीज17.61-48.43 मिलीग्राम

रागी के नुकसान- (ragi in hindi name)

रागी में चिकित्सीय गुणों के कारण ढेर सारे स्वास्थ्य लाभ हैं। लेकिन अगर आप इसका ज्यादा सेवन करते हैं तो आप शारीरिक रूप से बीमार हो सकते हैं। तो आइए जानें कि रागी के इस्तेमाल से क्या-क्या नुकसान हो सकते हैं।

  • रागी में भरपूर मात्रा में कैल्शियम होता है। ऐसे में ज्यादा रागी खाने से किडनी स्टोन की समस्या हो सकती है।
  • रागी फाइबर से भरपूर अनाज है। बहुत अधिक फाइबर वाले खाद्य पदार्थों का सेवन करने से पेट फूलना, पेट फूलना और ऐंठन जैसी समस्याएं हो सकती हैं।
  • रागी के अधिक सेवन एलर्जी का कारण हो सकती है।

निष्कर्ष

 इस पोस्ट के माध्यम से आपको रागी के फायदे , नुकसान और इसको कैसे उपयोग किया जाता है (ragi in hindi name) बताया गया है उम्मीद है। कि आपको यह पोस्ट रागी के फायदे जरूर पसंद आई होगी।

"
"

By admin

A professional blogger, Since 2016, I have worked on 100+ different blogs. Now, I am a CEO at Speech Hindi...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *