हिंदी दिवस भाषण

आज 14 September है इस दिन को हम हिंदी दिवस के रूप में मनाते है हिंदी हमारी राज्य भाषा है जोकि 14 September 1949 को हिंदी भाषा को भारत के सविधान में राज्यभाषा के रूप में स्वीकार किया गया. आज इस पावन अवसर पर हम आपके लिए Hindi Diwas Speech हिंदी भाषा में लेकर आये है इन स्पीच को आप अपने School, Collage के भाषण के लिए भी चुन सकते है.

Hindi Diwas Speech in Hindi

1# Hindi Diwas Speech in Hindi | हिंदी दिवस पर स्पीच 

आदरणीय मुख्य अतिथि, सभी शिक्षकों और सभी मित्रों को मेरा प्रणाम!

सबसे पहले में आप सबका आभार प्रकट करना चाहता हूँ की मुझे हिंदी दिवस के अवसर पर अपने शब्द बोलने का मोका दिया. आज 14 September है आज के दिन को हम हिंदी दिवस के रूप में मानते है जिस में हम हिंदी भाषा के प्रति लोगो को जागरूक करते है ताकि हमारी राज्य भाषा हिंदी का विकास होता रहे.

सन 1918 सत्यसमेलन में महात्मा गाँधी जी ने हमारी हिंदी भाषा को राज्य भाषा बनाने की बात कही थी 14 September 1949 को हिंदी भाषा को राज्य भाषा बना दीया गया जोकि हमारे भारतवर्ष के लिए एक गोरव की बात है.

हिंदी भाषा पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा बोले जाने वाली भाषा में 3 नंबर पर आती है जोकि हिंदुस्तान के लिए समान की बात है.आज के टाइम में हिंदी भाषा को न सिखाकर माँ – बाप अपने बच्चों को इंग्लिश सिखाने पर बड़ा जोर देते है जोकि हमारी राज्य भाषा के लिए हानिकारक है.

ये ठीक है की इंग्लिश भाषा सीखना भी जरुरी है लेकिन साथ में हिंदी भाषा भी सिखानी चाइये. क्योंकि हिंदी भाषा सीखना भारतीयों के लिए समान की बात है. हमे हिंदी भाषा का दिल से समान करना चाइये आखिर में एक बार फिर से आपको और आपके परिवार को मेरी तरफ से हिंदी दिवस की हार्दिक शुभकामनाये !धन्यवाद!

2# Speech On Hindi Diwas in Hindi | हिंदी दिवस स्पीच इन हिंदी 

आदरणीय प्रधानाचार्य जी, अध्यापक और सभी सहपाठीयों को मेरा प्रणाम!

हिंदी दिवस को 14 September 1949 से लेकर हर साल बड़े चाव से मनाया जाता है. हिंदी का इतिहास लगभग 1000 साल पुराना है. हिंदी दिवस के अवसर पर school, collage, office में प्रतियोगिताये रखनी चाइये जैसे की कविता, निबंध लिखना या सुनाना हो सकती है इस दिन हमे हिंदी गाने सुनने चाइये.

साथ में अध्यापक बच्चो को हिंदी भाषा का महत्व भी बताते है. हमे  [हिंदी है हम वतन है] नारे को पूरा समान देना चाइये. आज के टाइम में अंग्रेजी सिखने पर ज्यादा जोर दिया जाता है ये गलत नहीं है लेकिन हमे हिंदी भाषा को अनदेखा नहीं करना चाइये भारत वर्ष में आज एसे बच्चे भी मोजूद है जोकि हिंदी पढना व् बोलना नहीं जानते जोकि हम भारतीय होने पर शर्मिंदगी महसूस कराती है.

हमे हिंदी भाषा सिखने पर भी ध्यान देना चाइये जिस से हिंदी भाषा विकशित होगी आज के टाइम में गूगल भी हिंदी भाषा को promote कर रहा है जोकि दुनियाँ में सबसे बड़ा सर्च इंजन है हमे हिंदी भाषा का समान करना है. अपने भाषण को खत्म करते हुए हिंदी दिवस की आपको बहुत – बहुत बधाई धन्यवाद!

#3 Hindi Diwas Par Speech in Hindi

यहाँ पर उपस्थित सभी को मेरा प्रणाम!

1918 में गाँधी जी ने हिंदी भाषा को हमारी राज्य भाषा बनाने की बात कही थी जोकि सोच विचार के बाद 14 September 1949 में हिंदी भाषा को भारत की राज्य भाषा का दर्जा दिया गया. 

इस में विरोद भी किया गया कुछ हिंदी विरोधी राज्यों के द्वारा. 14 September 1949 से लेकर हर साल हिंदी दिवस को मनाया जाता है जिस में हिंदी को विकसित करने की बात कही जाती है.

हिंदी दिवस के उपलक्ष में सरकारी कार्यालय और स्कूल में प्रतियोगिताये भी कराई जताई है जिस से हिंदी भाषा की जागरूकता बढ़ सके. हिंदी भाषा भारत में सबसे ज्यादा बोले जाने वाली भाषा है हिंदी भाषा को सिखा और बोलना बहुत ज्यादा आसन है और भाषाओ के मुकाबले.

भारतीय होने के नाते हमे हिंदी भाषा का समान करना चाइये अपने स्पीच को विराम देते हुवे फिर से आपको और आपके परिवार को हिंदी दिवस की बधाई धन्यवाद!

हिंदी भाषा को लेकर और भी कुच्छ काम की बाते 

मुझे यहाँ देख कर बहुत बुरा लगता है की जो English अच्छी बोलता है उसे ही समझदार माना जाता हमारे समाज में. बल्कि योग्यता का अनुमान भाषा के बल पर लगाना सही नहीं है. हमे अपने आप को और अपने बच्चों को हिंदी भाषा को सिखने के लिए प्रेरित करना चाइये ताकि हमारी राज्य भाषा और हमारी संस्क्रती विकसित होती रहे. हमे प्राथमिकता अपनी हिंदी भाषा को की देनी चाइये. मुझे उम्मीद है आप समझ गए है.+


क्या आपने इन भाषण को पड़ा –

Final word

अपना कीमती समय देने के लिए धन्यवाद हमे उम्मीद है आपको ये Hindi Diwas Speech in Hindi बहुत पसंद आये है इन में से किसी भी भाषण को आप अपने school या फिर collage speech के लिए चुन सकते हो और अपने दोस्तों के साथ इन स्पीच को जरुर शेयर करे हमारी तरह से आपको हिंदी दिवस की हार्दिक शुभकामनाये!

Leave a Comment