Ganesh chaturthi speech essay in hindi

Ganesh chaturthi speech essay in hindi

भारत एक एसा देश है जिस में बहुत ज्यादा त्यौहार मनाये जाते है जिस में से मुख्य दिवाली, होली, रक्ष्या बंधन इन्ही के साथ गणेश चतुर्थी एक लम्बा चले वाला त्यौहार है जोकि लगातार 11 दिन तक चलता है. गणेश चतुर्थी हर साल गणेश भगवान के जन्म दिन के अवसर पर मनाई जाती है.

अंग्रेजी कैलेंडर के अनुसार हर साल अगस्त या सितंबर के महीनें में (हिंदी कैलेंडर के अनुसार भाद्र माह की चतुर्थी) में मनाया जाता है। 

मानयता है एक बार शिव और गणेश जी के बीच युद्ध हुआ जिस में भगवान शिव ने गणेश जी का सिर काट दिया था माता पार्वती के कहने पर शिव ने उन के धड़ पर हाथी का सिर लगा दिया था.

जब से हर साल गणेश भगत जन गणेश चतुर्थी को त्यौहार के रूप में मानते है. 

इसी अवसर पर हम आप लोगो के लिए गणेश चतुर्थी पर भाषण, निबंध हिंदी में लेकर आये है जोकि आप को जरुर पसंद आये गें तो चलिए शरु करते है.

गणेश चतुर्थी पर भाषण (Ganesh Chaturthi Speech in Hindi)

Ganesh chaturthi speech essay in hindi
Ganesh chaturthi speech essay in hindi

यहाँ पर उपस्तिथ सभी को मेरा प्रणाम गणेश चतुर्थी के पावन अवसर पर में भाषण सुनाना चाहती हूँ मुझे उम्मीद है आपको ये जरुर पसंद आये गा.

माना जाता है गणेश चतुर्थी को भगवान गणेश जी के जन्म दिन के अवसर पर मनाया जाता है. गणेश चतुर्थी हर साल अगस्त या सितंबर के महीने में मनाई जाती है.

यह ज्यादातर महाराष्ट्र मुंबई में मनाई जाती है जिस में फिल्मी दुनियाँ के स्टार भी बड-चढ़ कर भाग लेते है.

यह त्यौहार लगातार 11 दिन तक चलता है जिस में त्यौहार से कुच्छ दिन पहले ही बाजारों में सजावट व् भगवान गणेश की मूर्तियाँ लाई जाती है.

चतुर्थी के दिन भगत जन डोल व् डीजे बजा बड़ी धूम धाम से गणेश जी की मूर्ति को अपने घरो में लाते है.

Read more about Ganesh chaturthi speech essay in hindi with other sources

सुबह श्याम आरती, मंत्रोंच्चारण, गीत गाते है साथ में लाल चंदन, कपूर, नारियल, गुड़ और उनका प्रिय मोदक गणेश जी को चड़ाए जाते है.

माना जाता है जो भी दिल से भगवान गणेश जी की मूर्ति को अपने घर में स्थापित करता है उन की सभी मनोकामना भगवन गणेश जी पूरी करते है.

श्री गणेश ज्ञान और धन के देव है और अपने भगतो पर वो इन की बोछार करते है. 

इसी की साथ 11 वे दिन गणेश मूर्ति को भड़ी धूम धाम से नदी, समुंदर में विसर्जित कर दिया जाता है साथ में भगत जन प्रार्थना करते है अगले साल जल्दी से हमारे घर आना.

मुझे उम्मीद है आपको ये गणेश चतुर्थी पर भाषण पसंद आया है आखिर में यही कहना चाहूँ गी आप सभी को मेरी तरफ से गणेश चतुर्थी की हार्दिक शुभ कामनाये धन्यवाद.

गणेश चतुर्थी पर निबंध (Ganesh Chaturthi Essay in Hindi)

Ganesh chaturthi speech essay in hindi

यह त्यौहार हर साल अगस्त या सितंबर के महीने में मनाया जाता है. गणेश चतुर्थी पर्व गणेश जन्म दिन वाले दिन को मनाया जाता है ये पर्व लगातार 11 दिनों तक चलता है जिस में भगत जन अपने घरो में गणेश जी की मूर्ति को स्थापित करते है. 

गणेश चतुर्थी पर्व को ज्यादातर मुंबई में मनाया जाता है पर्व के पहले से ही बाजारों में सजावट शरू हो जाती है. साथ में मंदिरों में भी विशेष पुर्जा अर्चना की जाती है.

शरू वाले दिन ही भगत जन श्री गणेश जी की मूर्ति घरो में बड़ी धूम धाम से लेकर आते है जिस की वो 10 दिन तक पूजा अर्चना करते है फिर मूर्ति को धूम धाम से पानी में विसर्जित कर दिया जाता है भगत जन मन में कामना करते है गणेश महाराज अगले साल जल्दी हमारे घर पधारना.

भगवान शिव और गणेश जी की कहानी 

Ganesh chaturthi speech essay in hindi

माता पार्वती स्नान कर रही थी और गणेश को आदेश किया तुम किसी को भी अंदर मत आने देना गणेश जी दरवाजे पर खड़े हो गए.

तपस्या से लोट कर भगवान शिव आये द्वार पर ही गणेश ने उन्हें रोक दिया शिव जी और गणेश जी के बीच युद्ध हुआ इसी में संकर ने गणेश का सीस अपने भाले से काट दिया.

माता पार्वती को पता चलते ही वो भागी – भागी आई और शिव जी से कहा मेरे बेटे गणेश को जीवित करो तो भगवान शिव ने हाथी का मुह लगा कर गणेश जी को जीवन दान दिया. मन जाता है तब से गणेश चतुर्थी को मनाया जा रहा है.

https://www.youtube.com/embed/kn73OxmX2S0

गणेश और चन्द्रमा की कहानी 

Ganesh chaturthi speech essay in hindi

एक दिन गणेश जी को एक भगत ने खूब सारी मिठाई दी जिस को खाते – खाते रात हो गई खाने के बाद मुश्क की सवारी पर घर की तरफ चल दिये रस्ते में एक सांप आ गया जिस से वो दोनों गीर गये .

एसा देख कर चंद्रमा हंसने लगा क्रोदित हो गणेश जी ने उन्हें श्राप दे दिया की तुमारी खूबसूरती खत्म हो जाये. तो चंद्रमा विनती करने लगे मुझे माफ़ कर दीजिये गणेश जी एसा में कभी नहीं करू गा.

तो गणेश जी ने कहा में अपना श्राप वापिस तो नहीं ले सकता लेकिन तुमे वर्धान दे उसे कम जरुर कर सकता हूँ तो भगवन गणेश ने उन्हें वर्धान में कहा तुमारी चांदनी धीरे – धीरे आये गी धीरे – धीरे जाए गी.

https://www.youtube.com/embed/RKYHzJWNO7o

निक्रष 

Ganesh chaturthi speech essay in hindi

गणेश जी पर पूजा में लाल चंदन, कपूर, नारियल, गुड़ और उनका प्रिय मोदक चड़ाए जाते है जिस से गणेश महाराज खुश होकर अपने भगतो को मन चाहा वर्धान देते है. आपको और आपके परिवार को गणेश चतुर्थी की बहुत – बहुत बधाई!

गणेश भगवान के 12 नाम

भगवान गणेश जी को विभिन नामो से जाना जाता है जिन को हम अर्थ सहित आपको बता रहे है.

  • सुमुख – सुंदर मुख वाले
  • एकदंत – एक दंत वाले
  • कपिल – कपिल वर्ण वाले
  • गज कर्ण – हाथी के कान वाले
  • लंबोदर- लंबे पेट वाले
  • विकट – विपत्ति का नाश करने वाले
  • विनायक – न्याय करने वाले
  • धूम्रकेतू- धुंए के रंग वाले पताका वाले
  • गणाध्यक्ष- गुणों और देवताओं के अध्यक्ष
  • भाल चंद्र – सर पर चंद्रमा धारण करने वाले
  • गजानन – हाथी के मुख वाले
  • विघ्ननाशक- विघ्न को खत्म करने वाले

FAQ

भगवन श्री गणेश जी किस के पुत्र है?

गणेश जी भगवान शिव और माता पार्वती के पुत्र है.

गणेश चतुर्थी किस महीने में मनाई जाती है

हिंदी कैलेंडर के अनुसार भाद्र माह की चतुर्थी में मनाई जाती है और अंग्रेजी कैलेंडर के अनुसार हर साल अगस्त या सितंबर के महीनें में मनाई जाती है.

गणेश चतुर्थी का पर्व कितने दिनों तक चलता है?

गणेश चतुर्थी पर्व एक एसा पर्व है जो लगातार 11 दिनों तक चलता है.

गणेश चतुर्थी का पर्व सबसे ज्यादा कहा पर मनाया जाता है?

सबसे ज्यादा गणेश चतुर्थी पर्व को महाराष्ट्र के मुंबई में बड़ी धूम – धाम से मनाया जाता है.

इन्हें भी जरुर पढ़े –

निक्रष 

हमे पूरी – पूरी उम्मीद है आपको ये गणेश चतुर्थी पर भाषण, निबंध हिंदी में [Ganesh Chaturthi Speech, Essay in Hindi] जरुर से पसंद आये है इसे दोस्तों के साथ सोशल मीडिया पर जरुर शेयर करे और हमारी तरफ से आपको हैप्पी गणेश चतुर्थी आपकी सभी मनोकामनाए भगवान गणेश जी पूरी करे. धन्यवाद!

By admin

A professional blogger, Since 2016, I have worked on 100+ different blogs. Now, I am a CEO at Speech Hindi...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *