Essay On Oxygen in Hindi

  • Essay On Oxygen in Hindi

हमारा वायुमंडल विभिन्न गैसों के मिश्रण से बना है जिसमें नाइट्रोजन सबसे अधिक मात्रा में पायी जाती है और ऑक्सीजन दूसरे नंबर पर पायी जाने वाली गैस है. लेकिन ऑक्सीजन सबसे अधिक महत्वपूर्ण है क्योंकि ऑक्सीजन के बिना इस पृथ्वी पर जीवन की कल्पना नहीं की जा सकती.

कुछ समय के लिए हम खाना और पानी नहीं पिए तो भी जीवित रह सकते है लेकिन अगर एक क्षण के लिए भी ऑक्सीजन नहीं मिले तो हम तड़पने लगते है.

जीने के लिए ऑक्सीजन बहुत जरूरी है लेकिन प्रतिदिन हमारी बहुत सी गतिविधियों से हवा में मौजूद यह ऑक्सीजन प्रदूषण के कारण कम होती जा रही है इसलिए हमें हवा को स्वच्छ रखने के लिए विचार करना जरूरी है.

मानव निर्मित ऑक्सीजन भी उपलब्ध है जिसका उपयोग उद्योगों और आपातकालीन स्थिति में लोगों के इलाज में किया जाता है.

इस लेख में ऑक्सीजन पर निबंध लिखा गया है जो सभी के लिए एक महत्वपूर्ण विषय है. हमने ऑक्सीजन के महत्व को समझाने का प्रयास किया है.

ऑक्सीजन पर निबंध (Essay On Oxygen in Hindi)

Essay on Oxygen in hindi
Essay On Oxygen in Hindi

ऑक्सीजन हमारे वायुमंडल के लगभग 21 प्रतिशत हिस्से में मौजूद है और यह प्राणवायु के नाम से प्रचलित है. पृथ्वी पर मौजूद हर जीव-जन्तु के लिए ऑक्सीजन बहुत ही महत्वपूर्ण है. यह प्राकृतिक रूप से वायुमंडल में निर्मित होती है जिसे हम श्वसन क्रिया के लिए प्रयोग करते है.

पौधे प्रकाशसंश्लेषण क्रिया के दौरान कार्बन डाइऑक्साइड अंदर लेते है और ऑक्सीजन बहार छोड़ते है. 

आज के समय में हम अपने जीवन को सरल बनाने के लिए कई ऐसे संसाधनों का प्रयोग करते है जो हवा को प्रदूषित करते है जिसके कारण हमें शुद्ध ऑक्सीजन नहीं मिल रही है जो बहुत बड़ा खतरा हो सकता है. इसलिए वायु प्रदूषण के लिए महत्वपूर्ण कदम उठाने की भी आवश्यकता है.

ऑक्सीजन क्या है?  

ऑक्सीजन एक रंगहीन, गंधहीन और स्वादहीन पदार्थ है जो हमारे वायुमंडल का लगभग 21 प्रतिशत हिस्सा ग्रहण करती है. जिसकी 1772 में स्वीडन के रसायनज्ञ कार्ल शीले ने खोज की थी. उन्होंने पोटेशियम नाइट्रेट, मरकरी ऑक्साइड और अन्य पदार्थों को जलाया जिसके कारण ऑक्सीजन गैस उत्पन्न हुई थी.

ऑक्सीजन हमारे वातावरण में स्वतंत्र और यौगिक दोनों रूप में उपलब्ध है. यौगिक रूप में खनिज, चट्टानों, पानी और अन्य तत्वों में पायी जाती है. ऑक्सीजन जल के अंदर भी घुलनशील है जो पानी के अंदर रहने वाले जीव-जन्तुओं की श्वसन क्रिया के लिए महत्वपूर्ण है. 

ऑक्सीजन का महत्व   

Essay On Oxygen in Hindi

ऑक्सीजन तरल और गैस दोनों अवस्था में पाई जाती है. यह पृथ्वी पर मौजूद सभी जीवों के लिए बहुत ही आवश्यक है.

अलग-अलग क्षेत्रों में ऑक्सीजन का विशेष महत्व है सूर्य की हानिकारक किरणों से बचाने वाली पृथ्वी के चारों और मौजूद ओज़ोन परत भी ऑक्सीजन के अणुओं से बनी हुई है. अतः ऑक्सीजन की कमी से ओज़ोन परत का ह्रास हो सकता है.

ऑक्सीजन का प्रयोग मनुष्य के शरीर में मौजूद खतरनाक बीमारी कैंसर के इलाज में भी किया जाता है. ऑक्सीजन से कैंसर कोशिकाओं को मारा जाता है इसके अलावा ऑक्सीजन का तरल रूप थेरेपी करने में उपयोग किया जाता है. ऑक्सीजन को वेल्डिंग की प्रक्रिया में भी उपयोग किया जाता है. 

पानी में मौजूद ऑक्सीजन जलीय जीवों के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण है. ऑक्सीजन को रॉकेट की ईंधन के रूप में प्रयोग किया जाता है.

Read more about Essay on Oxygen in hindi with other sources

खानों में ऑक्सीजन का एक विस्फोटक के रूप में प्रयोग किया जाता है. सबसे महत्वपूर्ण बात तो यह है कि ऑक्सीजन के बिना किसी भी वस्तु का जलना असंभव है.

हमारे शरीर में आपातकालीन स्थिति में ऑक्सीजन की कमी होने पर मानव निर्मित ऑक्सीजन सिलेंडर का प्रयोग किया जाता है.

उद्योगों में भी ऑक्सीजन का बहुत बड़ी मात्रा में प्रयोग होता है क्योंकि ऑक्सीजन एक क्रियाशील गैस है. इसका उपयोग धातु को काटने में किया जाता है.

ऑक्सीजन को प्रदूषित जल को साफ़ करने के लिए भी किया जाता है. ऑक्सीजन का प्रयोग शरीर में प्रवेश करने वाली हानिकारक गैस कार्बन मोनोऑक्साइड को बाहर निकालने के लिए किया जाता है. ऑक्सीजन मिट्टी के लिए भी बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि मिट्टी के अंदर भी बहुत सारे जीव रहते है.

हमारे शरीर को निश्चित मात्रा में ऑक्सीजन की आवश्यकता होती है जिसकी पूर्ति होना बहुत ही जरूरी है. शरीर की रोगप्रतिरोध की क्षमता को बढ़ाने के लिए प्रयाप्त मात्रा में ऑक्सीजन मिलनी चाहिए.      

इन्हें भी पढ़े

निष्कर्ष

Essay On Oxygen in Hindi

ऑक्सीजन बहुत ही महत्वपूर्ण तत्व है ऑक्सीजन की मौजूदगी की वजह से ही पृथ्वी पर पेड़ पौधे और जीव मौजूद है. अगर ऑक्सीजन न मिले तो जीव तड़पने लगते है और बहुत जल्दी उनका जीवन समाप्त हो सकता है.

आपातकालीन स्थिति में शरीर में ऑक्सीजन की पूर्ति करने के लिए लोगो को कृत्रिम ऑक्सीजन उपलब्ध करवाई जाती है. हमारे मस्तिष्क को बहुत सारी ऊर्जा की जरुरत होती है और मस्तिष्क को यह ऊर्जा ऑक्सीजन से ही मिलती है.

प्रदूषण के कारण हवा में ऑक्सीजन का स्तर गिरता जा रहा है जो सभी के लिए बहुत बड़े खतरे का संकेत है. इस पर विचार करना बहुत ही आवश्यक है. हवा में ऑक्सीजन का स्तर बढ़ाने के लिए हमे प्रदुषण कम करने पर ध्यान देना चाहिए और अपने आसपास पेड़ पौधे लगाने चाहिए. 

https://www.youtube.com/embed/fqm1TbcITf8
हम से जुड़ने के लिए Group को join करे

Leave a Comment