नारियल के पेड़ पर निबंध | Essay on coconut tree in hindi

हेलो दोस्तों स्वागत है आपका अपने ब्लॉग में. आज हम आप लोगों के लिए  नारियल के पेड़ पर निबंध (Essay on coconut tree in hindi) लेकर आए हैं.

जिसको आप अपने स्कूल में और कॉलेज में प्रयोग कर सकते हैं नारियल पर निबंध लिखने के लिए.  नारियल बहुत ही उपयोगी होता है. नारियल को इंग्लिश में coconut कहा जाता है. नारियल के पेड़ पर निबंध 

तो फिर चलिए शरु करते है और लिखते है नारियल पर निबंध, नारियल के पेड़ पर निबंध हिंदी में.

All Heading :-

नारियल पर निबंध

Coconut Essay in Hindi

नारियल का पेड़ एक बहुत ही सुंदर और उपयोग पेड़ो में से एक है. नारियल का पेड़ पाम प्रजाति का बहुत ही लंबा पेड़ होता है. नारियल का वैज्ञानिक नाम कोकस नुसिफेरा है.  नारियल के पेड़ में टहनियाँ नहीं होती है. 

नारियल को श्री फल के नाम से भी जाना जाता है. नारियल के फल से हमे प्रोटीन, केल्सियम भरपूर मात्रा में प्राप्त होता है. इसी के साथ नारियल का पानी भी पोषक तत्वों से भरपूर होता है.

नारियल के पेड़ समुंदर के पास पाए जाते है. नारियल के पेड़ की आयु लगभग 100 साल तक होती है. नारियल के पेड़ पर निबंध |नारियल पेड़ का हर एक हिस्सा बहुत ही लाभकारी और महत्वपूर्ण होता है. 

नारियल से हमे तेल भी मिलता है जोकि खाने में प्रयोग किया जाता है साथ में त्वचा पर भी लगाने के लिए प्रयोग में लाया जाता है.

नारियल की गिरी खाने में मीठी होती है और कची गिरी से स्वादिष्ट चटनी भी बनाई जा सकती है. 

एक तरफ नारियल शरीर के लिए बहुत ही लाभकारी होता है दूसरी तरफ नारियल बहुत से लोगों की आजीविका का भी साधन है. नारियल के पेड़ पर निबंध |

क्योंकि नारियल के पेड़ से टोकरी, झाड़ू, चटाई आदि बनाए जाते हैं. नारियल के पेड़ को भारत में बहुत ही पवित्र फल माना जाता है.नारियल के पेड़ पर निबंध | किसी भी शुभ काम को करने से पहले नारियल को तोडा जाता है. 

और हिंदू धर्म में पूजा और मंदिरों में नारियल का भरपूर  प्रयोग किया जाता है. नारियल के पेड़ से हमे दूध, तेल, गिरी प्राप्त होती है.

भारत के अंदर केरल, तमिलनाडु, कर्नाटक में नारियल भरपूर मात्रा में पाए जाते है. पुरे विश्व भर में नारियल के उत्पादन में भारत तीसरे नंबर पर आता है. नारियल के पेड़ पर निबंध |

10 Lines On Coconut Tree in Hindi

चलिए अब हम 10 लाइन नारियल के पेड़ पर लिखते है जिस से आपको और भी नारियल के बारे में जानने को मिलेगा.

  1. नारियल के पेड़ को इंग्लिश में Coconut कहाँ जाता है.
  2. नारियल के पेड़ की आयु लगभग 100 साल तक होती है.
  3. नारियल के पेड़ लगभग 20 से 30 मीटर तक लम्बे हो सकते है. नारियल की कुछ बोनी प्रजाति भी होती है नारियल के पेड़ पर निबंध | जिस की लम्बाई 10 फिट से लेकर 15 फिट तक होती है. 
  4. नारियल के पेड़ का तना काफी कठोर होता है.
  5. नारियल के पेड़ से टोकरी और चटाई भी बनाई जाती है.
  6. 1.5 करोड़ से ज्यादा पेड़ सिर्फ केरल में पाए जाते है. नारियल के पेड़ पर निबंध |
  7. नारियल के पेड़ पर सबसे ज्यादा फल मार्च से लेकर जुलाई तक लगता है.
  8. सबसे ज्यादा नारियल का उत्पादन इंडोनेशिया में किया जाता है.
  9. नारियल को श्रीफल और कल्पवृक्ष के नाम से भी जाना जाता है.
  10. हिन्दू धर्म के अनुसार नारियल की उत्पति ऋषि विश्वामित्र ने की है.

Read more about essay on coconut tree in hindi

नारियल के पेड़ के बारे में पांच वाक्य (5 sentences about Coconut Tree in Hindi)

● नारियल के पेड़ सबसे उपयोगी पेड़ों में से एक होता है।

● नारियल के पेड़ एक लंबा पेड़ होता है जिसकी कोई शाखा नहीं होती है।

● नारियल के पेड़ शीर्ष पर लंबे और हरे पत्ते होते हैं। नारियल के पेड़ पर निबंध |

● नारियल का पेड़ लगभग 100 वर्षों तक जीवित रहते हैं।

● नारियल के पेड़ को अंग्रेजी में coconut tree कहा जाता है।

● नारियल के फल को श्रीफल के नाम से भी जाना जाता है।

● भारतीय धर्म और संस्कृत में नारियल के पेड़ और नारियल के काफी ज्यादा महत्व है।

नारियल के पेड़ के उपयोग (10 uses of coconut tree)

नारियल के पेड़ के उपयोग काफी सारे कामों में आता है और नारियल के पेड़ काफी ज्यादा फायदेमंद होता है नारियल का पेड़ इतना फायदेमंद होता है कि इस पेड़ के पेड़ का लगभग हर भाग उपयोगी होता है। नारियल के पेड़ पर निबंध | नारियल के पेड़ की लकड़ी का उपयोग कई प्रकार के कागज़,फर्नीचर, मकान, नावें, आदि बनाने में होता है। इसके अलावा नारियल के पत्तों का उपयोग छतों को ढकने के लिए भी किया जाता है।

और इसके अलावा नारियल का तेल का उपयोग खाना बनाने में भी किया जाता है इसके साथ ही नारियल के कच्चे तेल को शरीर पर भी लगाया जाता है

नारियल का पानी पीने से शरीर में काफी ज्यादा स्फूर्ति आती है, और नारियल का पानी पीने से शरीर तरोताजा हो जाता है। नारियल के पेड़ की जड़ों का उपयोग डाई बनाने में भी किया जाता है। इसके अलावा नारियल के पेड़ कई सारी चीजों का निर्माण होता है जैसे कि चटाई, दरी, बॉक्स, झाड़ू इत्यादि भी बनाए जाते हैं। नारियल के पेड़ पर निबंध | इसके अलावा नारियल से चटनी भी बनाई जाती है जो काफी ज्यादा स्वादिष्ट लगती है और नारियल से लड्डू की मिठाइयां भी बनाई जाती है। नारियल के पेड़ पर निबंध |

इसके अलावा नारियल के प्रयोग कई सारे स्वादिष्ट खाद्य पदार्थ बनाने में किए जाते हैं इसके अलावा इस नारियल के पेड़ का उपयोग माउथ फ्रेशनर बनाने में और टूथब्रश बनाने के लिए भी किया जाता है और नारियल के रेशों से काफी प्रकार की रस्सियां भी बनाई जाती है।

नारियल का पानी पीने से शरीर में काफी ज्यादा स्फूर्ति आती है, और नारियल का पानी पीने से शरीर तरोताजा हो जाता है। नारियल के पेड़ की जड़ों का उपयोग डाई बनाने में भी किया जाता है। इसके अलावा नारियल के पेड़ कई सारी चीजों का निर्माण होता है जैसे कि चटाई, दरी, बॉक्स, झाड़ू इत्यादि भी बनाए जाते हैं। नारियल के पेड़ पर निबंध | इसके अलावा नारियल से चटनी भी बनाई जाती है जो काफी ज्यादा स्वादिष्ट लगती है और नारियल से लड्डू की मिठाइयां भी बनाई जाती है। नारियल के पेड़ पर निबंध |

इसके अलावा नारियल के प्रयोग कई सारे स्वादिष्ट खाद्य पदार्थ बनाने में किए जाते हैं इसके अलावा इस नारियल के पेड़ का उपयोग माउथ फ्रेशनर बनाने में और टूथब्रश बनाने के लिए भी किया जाता है और नारियल के रेशों से काफी प्रकार की रस्सियां भी बनाई जाती है। नारियल के पेड़ पर निबंध | जो कि काफी ज्यादा मजबूत होती हैं। ये नारियल का पेड़ बहुत से लोगों के लिए रोजगार का एक अहम साधन है। और नारियल के सेवन करने से ब्लड सर्कुलेशन अच्छा होता है और शरीर के त्वचा निखर जाती है। और सुखा नारियल का सेवन करने से हमारा दिमाग काफी ज्यादा तेज होता है। इसके अलावा इसके सेवन करने से anaemia की बीमारी और iron आयरन की कमी भी काफी हद तक दूर होती है। 

जो कि काफी ज्यादा मजबूत होती हैं। ये नारियल का पेड़ बहुत से लोगों के लिए रोजगार का एक अहम साधन है। और नारियल के सेवन करने से ब्लड सर्कुलेशन अच्छा होता है और शरीर के त्वचा निखर जाती है। नारियल के पेड़ पर निबंध | और सुखा नारियल का सेवन करने से हमारा दिमाग काफी ज्यादा तेज होता है। इसके अलावा इसके सेवन करने से anaemia की बीमारी और iron आयरन की कमी भी काफी हद तक दूर होती है।

क्योंकि नारियल का तेल हमारे शरीर की त्वचा को काफी ज्यादा मुलायम और चमकदार रखता है और इस नारियल के तेल के त्वचा पर लगाने पर काफी सारे त्वचा के रोग भी ठीक हो जाते हैं। नारियल के पेड़ पर निबंध | नारियल का तेल सर के बालों में भी लगाया जाता है इस तेल को बाल में लगाने से बाल काफी ज्यादा लंबे, घने और काले होते हैं और साथ ही साथ यह नारियल के तेल को जड़ों लगाने पर जड़ों को भी काफी मजबूती मिलती है। नारियल के पेड़ पर निबंध | 

नारियल का पानी पीने से शरीर में काफी ज्यादा स्फूर्ति आती है, और नारियल का पानी पीने से शरीर तरोताजा हो जाता है। नारियल के पेड़ की जड़ों का उपयोग डाई बनाने में भी किया जाता है। इसके अलावा नारियल के पेड़ कई सारी चीजों का निर्माण होता है जैसे कि चटाई, दरी, बॉक्स, झाड़ू इत्यादि भी बनाए जाते हैं। नारियल के पेड़ पर निबंध | इसके अलावा नारियल से चटनी भी बनाई जाती है जो काफी ज्यादा स्वादिष्ट लगती है और नारियल से लड्डू की मिठाइयां भी बनाई जाती है। नारियल के पेड़ पर निबंध |

इसके अलावा नारियल के प्रयोग कई सारे स्वादिष्ट खाद्य पदार्थ बनाने में किए जाते हैं इसके अलावा इस नारियल के पेड़ का उपयोग माउथ फ्रेशनर बनाने में और टूथब्रश बनाने के लिए भी किया जाता है और नारियल के रेशों से काफी प्रकार की रस्सियां भी बनाई जाती है। जो कि काफी ज्यादा मजबूत होती हैं। नारियल के पेड़ पर निबंध | ये नारियल का पेड़ बहुत से लोगों के लिए रोजगार का एक अहम साधन है। और नारियल के सेवन करने से ब्लड सर्कुलेशन अच्छा होता है और शरीर के त्वचा निखर जाती है। और सुखा नारियल का सेवन करने से हमारा दिमाग काफी ज्यादा तेज होता है। इसके अलावा इसके सेवन करने से anaemia की बीमारी और iron आयरन की कमी भी काफी हद तक दूर होती है।

नारियल के पेड़ के क्या क्या फायदे हैं 3 वाक्य लिखिए? (about Coconut Tree in Hindi)

● नारियल के पेड़ के पत्तों से पंखे, चटाइयां, टोकरियां आदि बनती हैं।

● नारियल के पेड़ की जटा से थैले और ब्रश भी बनाए जा सकते हैं।

● नारियल के पेड़ की छाल, लकड़ी और फल की खोल को एक साथ मिलाकर झोपड़ी भी बनाई जा सकती है। नारियल के पेड़ पर निबंध |

FAQ

नारियल का पेड़ लगाने से क्या फायदा?

नारियल के पेड़ कीनारियल का पेड़ लगाने के काफी सारे फायदे होते हैं जैसे कि नारियल का पेड़ इतना फायदेमंद होता है कि इस पेड़ के पेड़ का लगभग हर भाग उपयोगी होता है।  लकड़ी का उपयोग कई प्रकार के कागज़,फर्नीचर, मकान, नावें, आदि बनाने में होता है। इसके अलावा नारियल के पत्तों का उपयोग छतों को ढकने के लिए भी किया जाता है। नारियल के पेड़ पर निबंध | और नारियल के एक फायदा यह है कि नारियल का पानी पीने से शरीर में काफी ज्यादा स्फूर्ति आती है, और नारियल का पानी पीने से शरीर तरोताजा हो जाता है। इसके अलावा इस नारियल के सेवन करने से anemia की बीमारी और iron आयरन की कमी भी काफी हद तक दूर होती है। तो नारियल का एक यह भी फायदा होता है। 

नारियल का पेड़ घर में लगाना चाहिए या नहीं

दोस्तों यदि आप का सवाल है कि नारियल का पेड़ घर में लगाना चाहिए या नहीं तो आपको हम जानकारी के लिए बताना चाहेंगे कि एक ज्‍योतिषशास्‍त्र के अनुसार अपने घर में नारियल का पेड़ लगाना भी काफी शुभ माना जाता है। नारियल के पेड़ पर निबंध | ऐसा माना जाता है कि जिनके घर में नारियल के पेड़ लगाए गए हो , उनके मान-सम्मान में काफी ज्यादा वृद्धि होती है।

नारियल का पेड़ कैसे लगाये? (How to plant coconut tree in hindi)

नारियल का पेड़ लगाने के लिए आपको सबसे पहले नारियल का एक बीज लाना होगा और उसके बाद उस नारियल के बीज को कहीं खुले स्थान पर मिट्टी के अंदर डाल दें और उसके बाद उस मिट्टी को तोप दे और समय-समय पर उस जगह पर पानी देते रहे उसके बाद उसी दिन में आपका नारियल का पेड़ लग जाएगा। नारियल के पेड़ पर निबंध |

नारियल का पेड़ कितने दिन में फल देता है?

दोस्तों यदि आप का सवाल है कि नारियल का पेड़ कितने दिन में फल देता है तो हम आपको बता दें कि आमतौर पर नारियल का पेड़ 4 साल में फल देना शुरू कर देते है. नारियल के पेड़ पर निबंध |

नारियल के पेड़ कितने प्रकार के होते हैं?

दोस्तों यदि आप का सवाल है कि नारियल के पेड़ कितने प्रकार के होते है तो हम आपको बता दें कि नारियल के कई सारे प्रकार होते हैं। आमतौर पर नारियल का विशेष भेद फलों के रंग और आकार में होता है। कोई नारियल फल बिल्कुल ही लाल होते हैं, नारियल के पेड़ पर निबंध कोई नारियल फल हरे भी होते हैं और वहीं कई सारे नारियल फल मिले जुले रंग के होते हैं ।

नारियल के पेड़ की लम्बाई कितनी होती है?

दोस्तों यदि आप का सवाल है कि नारियल के पेड़ की लम्बाई कितनी होती है तो हम आपको जानकारी के लिए बता दें कि नारियल के पेड़ की लम्बाई लगभग 10 meter से भी ज्यादा हो सकती है. नारियल के पेड़ पर निबंध |

नारियल का पेड़ शुभ या अशुभ है?

नारियल का पेड़ लगाना भी काफी शुभ माना जाता है। ऐसा माना जाता है कि जिनके घर में नारियल के पेड़ लगाए गए हो , उनके मान-सम्मान में काफी ज्यादा वृद्धि होती है। नारियल के पेड़ पर निबंध |

नारियल से क्या-क्या बना सकते हैं?

दोस्तों यदि आपको नहीं पता है कि नारियल से क्या-क्या बन सकता है तो वह हमको जानकारी के लिए बता दु कि नारियल से बहुत सारी चीज बनाए जा सकते हैं जैसे कि कोकोनट राईस, कोकोनट पछड़ी ग्रीन पीस् आम्बटी, थाई ग्रीन करी, अंडारहित सूजी और शाकाहारी थाई ग्रीन करी, नारियल का केक इसके अलावा भी नारियल से और बहुत सारे चीज बनाए जाते हैं। नारियल के पेड़ पर निबंध |

नारियल का पौधा कौन सी दिशा में लगाना चाहिए?

यदि आपको नहीं पता है कि नारियल का पौधा कौन सी दिशा में लगाना चाहिए तो हम आपको बता दें कि नारियल का पौधा को दक्षिण या पश्चिम दिशा में लगाने चाहिए। नारियल के पेड़ पर निबंध | इससे घर में विकास और स्थायित्व सुनिश्चित होता है।

सूखे नारियल के फायदे (benefits of dried coconut)

सूखे नारियल के भी कई सारे फायदे होते हैं क्योंकि सूखे नारियल में ऐसे कई सारे पोषक तत्व होते हैं जो हमारे शरीर के कनेक्टिव टिश्यूज को काफी ज्यादा मजबूत बनाते हैं. नारियल के पेड़ पर निबंध | नारियल को अपने रोजाना डाइट में शामिल करने से ऑस्टियोपोरोसिस और गठिया जैसी समस्याएं से भी काफी ज्यादा राहत मिलती है। नारियल के पेड़ पर निबंध |

Coconut tree in Hindi name

Coconut tree का Hindi name नारियल का पेड़ होता हैं।

https://www.youtube.com/embed/8qoxm3K04r4

सम्बंदित निबंध : –

निष्कर्ष

हमे उम्मीद है आपको नारियल पर निबंध पसंद आया है इसी प्रकार से और भी निबंध पढने के लिए हमारे साथ बने रहिये गा. साथ में और पोस्ट को भी चेक करे. अपने दोस्तों के साथ शेयर करे और कमेंट कर के बताये आपको निबंध कैसा लगा इस पोस्ट में इतना ही धन्यवाद!

हम से जुड़ने के लिए Group को join करे

1 thought on “नारियल के पेड़ पर निबंध | Essay on coconut tree in hindi”

Leave a Comment