बाल दिवस पर भाषण

बाल दिवस के इस पावन अवसर पर हम आपके लिए बाल दिवस पर भाषण (Bal Diwas Speech in Hindi) लेकर आये है जो आप अपने स्कूल, कॉलेज के लिए ले सकते है. 14 नवंबर 1889 को पैदा हुए जवाहरलाल नेहरू जी जोकि हमारे पहले प्रधान मंत्री भी थे उन्हें बच्चो से बड़ा प्यार था उन का मानना था बच्चे ही हमारा आने वाला कल है और ये सत्य भी है. 

बच्चे उन्हें चाचा नहरू कह पर पुकारते थे बच्चो के प्रति जवाहरलाल नेहरू का अपार प्यार देखते हूँ  जवाहरलाल नेहरू जी जयंती पर हर साल बाल दिवस (children’s day) के रूप में मनाया जाता है. बाल दिवस के उपलक्ष में हर साल स्कूल, कॉलेज में प्रोग्राम आयोजित किये जाते है. 

जिस में बच्चे भाग लेकर अपनी प्रतिभा अनुसार कोई भाषण देता है कोई संगीत गाता है कोई निर्त्य कर मन मोह लेता है इसी के चलते हम आपके लिए Bal Diwas 14 November Speech in Hindi लेकर आये है जिस को आप अपने भाषण तयारी और भाषण देने के लिए प्रयोग कर सकते है तो चलिए शरु करते है.

Speech On Bal Diwas in Hindi, Children’s Day Speech in Hindi

बाल दिवस भाषण – Speech On Bal Diwas in Hindi, Children’s Day Speech in Hindi

यहाँ पर उपस्तिथ अध्यापक और मेरे प्यारे मित्रो को मेरा प्रणाम बाल दिवस (children’s day) के अवसर पर में अपने विचार प्रकट करना चाहूँ गा और उम्मीद करता हूँ आपको बहुत पसंद आये गा. 

14 नवंबर 1889 को ही हमारे प्रथम प्रधान मंत्री जवाहरलाल नेहरू का जन्म हुआ था. जवाहरलाल नेहरू जी बच्चो को बहुत प्यार करते थे उन्हें बच्चो के साथ रहना बहुत पसंद था इसी लिए बच्चे भी उन्हें चाचा कहा कर पुकारते थे.

बाल दिवस पर बच्चो को बताया जाता है उन्हें जवाहरलाल नेहरू जी के आदर्शो पर चलना चाइये और जीवन में एक इमानदार इंसान बनने के साथ हमे देश के प्रति प्रेम भी होना चाइये. 

हमे सभी बच्चो को शिक्षा देनी चाइये एक तरह हमारी सरकार कोशिश भी कर रही लेकिन दूसरी तरफ बहुत सी एसी जगह भी है जहा पर बच्चो से काम कराया जाता है. उन्हें स्कूल में नहीं भेजा जाता है. उन बच्चो के माँ बाप को शिक्षा का मत्व बताना चाइये और उन बच्चो के भविष्य को उज्वल बनाना चाइये.

जवाहरलाल नेहरू जी मानते थे बच्चे हामरे देश का भविष्य है और ये सच भी है आज के बच्चे ही अपनी प्रतिभा अनुसार कोई डॉक्टर, अध्यापक तो कोई सिपाई बन कर देश की रक्षा करे गा.

इसी के साथ अपने शब्दों को बिराम देता हूँ आखिर में कहना चाहूँ गा आज के ही पर्ण ले स्कूल में न जाने वाले बच्चो के ममी पापा को समझाये गे ताकि वो भी अपने बच्चो की पढाना शरु करा सके हैप्पी बाल दिवस!

14 नवम्बर बाल दिवस भाषण – 14 November Bal Diwas Speech in Hindi

यहाँ पर इकठा हुवे सभी टीचर्स और मेरे मित्रो को मेरा शादर नमस्ते बाल दिवस के अवसर पर में एक भाषण पेश करना चाहता हूँ आशा करता हूँ आपको भाषण पसंद आये गा.

14 नवंबर 1889 को पैदा हुए जवाहरलाल नेहरू जी को बच्चो से बहुत प्यार था वो बच्चो में रहना बहुत पसंद करते थे उन का मानना था अगर हमारे बच्चे पढ़े गे तभी हमारा देश आगे बढे गा. उनका इतना अपार प्यार बच्चो के प्रति देखे हुवे उन के जन्म दिन को बाल दिवस के रूप में मनाया जाता है.

जिस दिन स्कूल कॉलेज में प्रोग्राम भी किये जाते है जिस में छोटे बच्चे व् बढे बच्चे भाग लेकर भाषण व् देश भगती संगीत सुनते है. बाल दिवस के अवसर पर हम सभी बच्चो को पर्ण लेना चाइये की हम मन लगा कर पढ़े गे सफल होकर हमारे प्रधान मंत्री जवाहरलाल नेहरू जी का सपना पूरा करे गें.

साथ में उन माता पिता को भी समझाये गे जो अपने बच्चो को स्कूल नहीं भेजते है उन से काम कराते है जिस से वो उने स्कूल भेजे और उन को जीवन में कुच्छ बढ़ा करने का मोका दे.

बाल दिवस के इस दिन का बच्चे बड़े बेसब्री से इंतजार करते है क्योकि इस दिन बहुत मजे आते है और अध्यापक बच्चो को प्रेरित करते है ताकि वो आगे बढ़ सके.

बच्चो को पढाई के साथ दुनियाँ के बारे में भी बताया जाना चाइये जिस से उन्हें पहले ही दुनिया दारी का ज्ञान हो सके.

इसी के साथ अपने स्पीच को खत्म करता हूँ और आपको और आपके परिवार को बाल दिवस की हार्दिक शुभ कामनाये!

इन भाषण को भी जरुर पढ़े –

निष्कर्ष 

मुझे पूरी उम्मीद है आपको ये बाल दिवस भाषण (bal diwas speech in hindi, bal diwas 14 november speech in hindi) जरुर पसंद आये है इसी प्रकार के भाषण पढने के लिए हमारे साथ बने रहिये गा आज के लिए इतना ही धन्यवाद!

Leave a Comment