कहानी लिखने के नियम

इस आर्टिकल के जरिये हम आपको बताएँगे कि हिंदी में कहानी लिखने के नियम क्या है और किस प्रकार से आप इन नियमों के साथ एक अच्छी कहानी लिख सकते हैं। जो लोग कहानी लेखन के नियम को पहले से नहीं जानते है, उनके लिए कहानी लिखने की कला कठिन लग सकती है। हालांकि, आज हम आपको बताएंगे कि कहानी लिखने के नियम क्या है आप भी कुछ नियमों के साथ आसानी से एक अच्छी कहानी लिख सकते हैं। कहानी लिखने के लिए दो मुख्य सिद्धांत जरुरी है: अनुशासन और रचनात्मकता। इससे किसी प्रकार का फर्क नहीं पड़ता कि आप एक पेशेवर लेखक हो या नहीं। यदि आप हिंदी में कहानी लिखना चाहते हैं, तो नतीजे ज्यादातर संतोषजनक हो सकते हैं।

ज्यादा से ज्यादा कहानियां पढ़ें

कहानी लिखने के नियम में सबसे पहला नियम है ज्यादातर कहानियों को पढ़े क्योंकि लेख सभी लेखकों को प्रभावित करता है। हमारे द्वारा हिंदी या दूसरे भाषा में लिखी गई कहानी उन पुस्तकों से प्रभावित हो सकते हैं जिन्हें हम पढ़ चुके है। जितना कहानियों को पढ़ेंगे उतना ज्यादा आपको कहानियों के बारे में अनुभव होगा जिससे आप की कहानी बहुत अच्छी हो सकती है। युवा लेखक इतिहास के प्रसिद्ध लेखकों को अचछे और व्यापक रूप से पढ़कर सीख सकते हैं।

विवरण की एक सूची बनाएं

उन विवरणों की एक सूची बनाना जरुरी है जिन्हें आपको अपनी कहानी में शामिल करने की जरुरत है और इसे आप अपनी चेकलिस्ट के जरिये कर सकते है | कहानी लिखने के नियम में यह एक फायदेमंद उपकरण है। जब आप कहानी लेखन शुरू करते हैं तो आप कहानी से जुड़ी कुछ विवरणों को भूल सकते हैं इसलिए यह सूची आपको कहानी लिखने में आसान बनाएगा।

कहानी के लिए अच्छी आदतें

अधिकांश नए कहानी लेखकों के लिए लेखन एक जटिल कार्य है। हर दिन कहानी लिखने के लिए समय निकालना जरुरी है। हालांकि आप किसी भी समय लिख सकते हैं, जब कभी आपको लिखना अच्छा लगता हो। लेकिन यह जरुरी है कि आप अपने लेखन समय को एक समान करें और उसको प्राथमिकता दें। यदि आप अपनी कहानी को प्राथमिकता देते हैं तब आप की कहानी और सुन्दर होती है इसलिए आप अच्छी आदतों के साथ कहानी लेखन करें ।

अपने समय का सदुपयोग करना चाहिए

विचारों के बारे में सोचें और उन विचारों को याद रखें। इस लेखन सत्र के समय आप क्या करना चाहते हैं, उसके बारे में अच्छे से सोच-विचार करें। कुछ लोग हर रोज लगभग 2000 शब्द लिखने का लक्ष्य रखते हैं। कुछ लोग शब्द गणना की परवाह करना नहीं चाहते हैं, और पढ़ने, लिखने के बीच वैकल्पिक करना पसंद करते हैं। इससे बिलकुल फर्क नहीं पड़ता कि आपके लक्ष्य कौन से  है, लेकिन मूल लक्ष्य निर्धारित करना जरुरी है। आप खाली कागज़ को देखने में अपना कीमती समय खर्च नहीं करेंगे इसलिए कहानी लिखने से पहले समय और शब्दों का निर्धारण बहुत जरुरी है।

कहानी लिखने के नियम

कहानी के लिए एक अच्छा शीर्षक

कहानी लिखने के नियमों में कहानी के लिए शीर्षक काफी जरुरी है। आपके कहानी का शीर्षक उस कहानी के निष्कर्ष पर आधारित होना जरुरी है ताकि कोई भी इंसान कहानी से जुड़ पाए। एक अच्छा शीर्षक आपके कहानी को अच्छा बनाता है और लोगों के सामने कहानी को सही रूप से रखने में भी शीर्षक बहुत मददगार होता है। इसके लिए आप अपने दोस्तों से पूछ सकते हैं।

कहानी के पात्रों से आरम्भ करना चाहिए

आप कहानी लिखने का आरम्भ कहानी के पात्रों से कर सकते हैं यह एक प्रकार का अच्छा नियम है। एक मजबूत चरित्र विकास एक बेहतर कहानी की कुंजी होती है। आपको एक जटिल मुख्य चरित्र की जरुरत होगी जो कहानी के एक चरित्र चाप को बनाए रखने में सफल रहेगा, इसके साथ मददगार पात्र जो मुख्य कहानी से सब प्लॉट चला सके।

कहानी को कला के रूप में लिखना चाहिए

आपको कहानी कला के लिए लिखें और व्यावसायिक विश्लेषण को बाद के लिए छोड़ दे। कहानी लेखन शैली एक प्रकार का नियम है जिसे साहित्यिक प्रकाशकों और आलोचकों ने बनाया है, यह हमेशा कार्य करने वाले लेखकों के लिए ठीक नहीं होता है। अपनी किताब की शैली के बारे में न जानना और किताब की शैली के बारे में न सोचना ठीक रहेगा।

एडिटर के दबाव में ना आए

अपने संपादक के साथ कार्य संबंध आधारित करें क्योंकि कहानी के प्रकाशन प्रक्रिया को एडिटर के द्वारा बहुत आसान बनाया जाता है। एक अच्छा एडिटर आपको एक अच्छा लेखक बना सकता है और आपको बड़ी तस्वीर देखने में साफल कर सकता है, एक बुरा एडिटर स्वयं को कलात्मक के रूप से व्यक्त करने के कारण में बाधा डाल सकता है।

कहानी लिखने के लिए एक शांत जगह

कहानी लिखने के नियम में यह सबसे जरुरी नियम है। जब कभी आप अपनी कहानी लिखने के लिए तैयार होते हैं तो आपको हमेशा एक शांत जगह चुनना बहुत जरुरी है जिससे कि आप पूरा ध्यान लगाकर कहानी लिख सके। शांत जगह में हमारा दिमाग आसान से केंद्रित होता है जिससे हम रोचक चीजों को कहानी में शामिल कर सकते हैं।

By admin

A professional blogger, Since 2016, I have worked on 100+ different blogs. Now, I am a CEO at Speech Hindi...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *